मटर की कचौरी - Matar Ki Kachori Recipe
  • 695 Views

मटर की कचौरी - Matar Ki Kachori Recipe

मटर की कचौरी बनाने में इतनी आसान हैं, कि जब भी चाहें आप तुरन्त बना कर अपने मेहमानों को खिला सकती हैं और घर में कभी भी जब आपका मन हो मटर की कचौरी बनाकर खा सकते हैं. तो आइये आज हम मटर की कचौरी बनाते हैं.

 सामग्री -
कचौरी का आटा गूथने के लिये :-

  •     गेहूं का आटा या मैदा - 200 ग्राम ( 2 कप )
  •     नमक - स्वादानुसार ( आधा छोटी चम्मच )
  •     तेल - 2 टेबल स्पून

विधि -

आटे को किसी बर्तन में निकाल कर, नमक और तेल डाल कर अच्छी तरह मिला लीजिये.  आधा कप पानी की सहायता से आटे को नरम गूथ लीजिये(कचौरी के आटे को ज्यादा मसले नहीं, आटा गूथे, आटा जैसे ही मिल कर एक बन जाय, तुरन्त ढक कर रख दीजिये). गूथे हुये आटे को सैट होने के लिये 20 मिनिट रख दें.

तब तक कचौरी में भरने के लिये मटर की पिठ्ठी तैयार कर लेते हैं.


सामग्री -

  •     हरी मटर - एक कप छिली हुई या( सफल फ्रोजन मटर ).
  •     तेल -  2 टेबल स्पून ( पिठ्ठी भूनने के लिये )
  •     हींग - 1-2 पिंच
  •     जीरा - आधा छोटी चम्मच
  •     धनियां पाउडर - 1 छोटी चम्मच
  •     सोंफ पाउडर - 1 छोटी चम्मच
  •     लाल मिर्च - एक चौथाई छोटी चम्मच
  •     गरम मसाला - एक चौथाई छोटी चम्मच
  •     अमचूर पाउडर - एक चौथाई छोटी चम्मच
  •     हरी मिर्च - 1-2 ( बारीक कटी हुई )
  •     अदरक - 1 इंच लम्बा टुकड़ा ( कद्दू कस कर लें )
  •     हरा धनियां  -1 टेबल स्पून ( बारीक कटा हुआ )
  •     नमक - स्वादानुसार ( आधा छोटी चम्मच )
  •     तेल - कचौरियां तलने के लिये


विधि -

मटर के दानों को मिक्सी से दरदरा पीस लीजिये.
में तेल डाल कर गरम कीजिये. गरम तेल में हींग और जीरा डाल दें. जीरा ब्राउन होने के बाद धनियां पाउडर, सोंफ पाउडर, हरी मिर्च, अदरक, मसाले को थोड़ा सा भूनिये और पिसे हुये मटर डाल दीजिये, लाल मिर्च, गरम मसाला, अमचूर पाउडर, हरा धनियां और नमक डाल कर मटर को 3-4 मिनिट तक भूनें. कचौरियों में भरने के लिये पिठ्ठी तैयार है.

कचौरी का आटा और पिठ्ठी तैयार है, अब कढ़ाई में कचौरियां तलने के लिये तेल डाल कर गरम करें. आटे से थोड़ा सा आटा ( एक छोटे नीबू के बराबर ) तोड़कार गोल करें अब इसे 1 1/2 या 2 सेमी. व्यास में बेल कर एक छोटी चम्मच पिठ्ठी भर कर रखें और उंगलियों की सहायता से कचौरी को बन्द करें. अब इस पिठ्ठी भरे गोले को हथेली से दबा कर चपटा करके थोड़ा सा बड़ा लें इससे मटर की पिठ्ठी एक सार हो जाती है. ( अगर हम सीधे बेलन से दबा कर बेलेंगे तो कचौरियां फटने का डर है ). अब इसे बेलन से 2 1/2 या 3 इंच के व्यास में बेल लें. इसी तरह सारे आटे की कचौरी बेल कर तैयार करनी हैं. और ये बेली हुई 3-4 कचौरियों को गरम तेल में डाल कर, धीमी आग पर पलट पलट कर कचौरियां ब्राउन होने तक तलिये. तली कचौरियां किसी प्लेट में नेपकिन पेपर बिछा कर निकाल लीजिये और दूसरी कचौरियां तलने के लिये कढ़ाई में डालिये. इसी तरह सारी कचौरियां तल कर तैयार कर लीजिये.

मटर की कचौरियां तैयार हैं. गरमा गरम कचौरियां, आलू की मसाले वाली सब्जी या हरे धनिये की चटनी के साथ परोसिये और खाइये.