पंजाबी मसाला मठरी - Punjabi Masala Mathri
  • 547 Views

पंजाबी मसाला मठरी - Punjabi Masala Mathri

देशी मसालों के साथ बनी खस्ता कुरकुरी पंजाबी मसाला मठरी स्वाद में बहुत ही लाजवाब होती हैं. हम इन्हें किसी भी त्यौहार पर भी बना सकते हैं.

सामग्री -

  •     मैदा - 2 कप (250 ग्राम)
  •     गेहूं का आटा - ½ कप (75 ग्राम)
  •     बेसन - ½ कप (50 ग्राम)
  •     सूजी - ¼ कप (50 ग्राम)
  •     तेल - ½ कप
  •     जीरा - ½ छोटी चम्मच
  •     अजवायन - ½ टेबल स्पून
  •     साबुत धनिया - 1 छोटी चम्मच
  •     सौंफ - 1 छोटी चम्मच
  •     काली मिर्च - ½ छोटी चम्मच
  •     लौंग - 4
  •     नमक - 1 छोटी चम्मच से कम या स्वादानुसार
  •     हींग - 1 पिंच
  •     कसूरी मेथी - 2 टेबल स्पून

विधि -

साबुत धनिया, सौंफ, काली मिर्च और लौंग को दरदरा पीस लीजिए.
एक बड़े प्याले में मैदा, गेहूं का आटा, बेसन, सूजी, नमक, जीरा, अजवायन, हींग, कसूरी मेथी और दरदरे पिसे मसाले डाल कर सभी चीजों को मिलायें और तेल डाल कर अच्छी तरह मिलाइये. अब थोडा़-थोडा़ पानी डालते हुए सख्त आटा गूंथ कर तैयार कर लीजिए.

गूंथे हुए आटे को सैट करने के लिये 15-20 मिनिट के लिये ढककर रख दीजिये.
आटा सैट हो गया है, आटे को थोडा़ मसल लीजिए और गूंथे हुये आटे से बराबर की छोटी-छोटी लोइयां बना लीजिये, एक लोई उठाइये, हथेली पर रखिये और दूसरे हाथ से दबा कर थोड़ा बढ़ा लीजिये, और प्लेट में रख दीजिये. सारी लोइयों को इसी तरह दबा कर मठरी तैयार कर लीजिये.

कढ़ाई में तेल डाल कर गरम कीजिये, गरम तेल में जितनी भी मठरी आ सकें, डालिये, मीडियम और धीमी गैस पर मठरियों को पलट-पलट कर गोल्डन ब्राउन होने तक तल लीजिये. तली हुई मठरियां निकाल कर प्लेट पर रखिये. बची हुई मठरियां फिर से डालिये और तलिये, सारी मठरियां तल कर इसी तरह तैयार कर लीजिये.

मठरियां ठंडी होने के बाद, एअरटाइट कन्टेनर में भर कर रख लीजिये, और 2 महिने तक खाते रहें. मठरी के साथ थोड़ा कोई भी खट्टा अचार परोसिये, बहुत अच्छी लगती है.

सुझाव :-

  •     आटा थोडा़ सख्त गूंथना चाहिए और मठरियां तलते समय तेल ज्यादा गरम नहीं होना चाहिए. धीमी आग पर तली मठरी बहुत ही खस्ता और क्रिस्पी बनती हैं.
  •     मठरियां हाथ से बढ़ाने के बजाय इन्हैं चकले पर बेलन की सहायता से थोड़ा मोटा बेलकर उसमें फोर्क की सहायता से छेद करके भी बनाया जा सकता है.