Loading...
तिल पट्टी - Til Patti Recipe
  • 1655 Views

तिल पट्टी - Til Patti Recipe

Til ki Patti Recipe. गुड़ और तिल से बनी गजक रेसिपी का टेस्ट में कोई जवाब नहीं। तिल की गजक या तिल चिक्की (Til Chikki) एक पारंपरिक भारतीय रेसिपी है। इसे तिल गुड़ पट्टी (Til Gur Patti) भी कहा जाता है। अंग्रेजी में इसे Sesame Brittle Recipe कहते हैं।तिल की गजक (Til ki Gajak) या तिल चिक्की (Til Chikki) बहुत स्वादिष्ट डिश तो है ही साथ ही यह पोषक तत्वों से भी भरपूर है। तिल की गजक बनाने के लिए दो चीजों (Ingredients) का ज्यादा इस्तेमाल होता है। पहली सामग्री, तिल (Sesame Seeds) और दूसरी सामग्री, गुड़ (Jaggery). दोनों ही चीजें सर्दियों के दिनों में हेल्थ के लिए बहुत फायदेमंद होती हैं।

आवश्यक सामग्री -

  •     तिल - 200 ग्राम (2 कप)
  •     गुड़ - 200 ग्राम ( छोटे टुकड़े 2 कप)
  •     घी - 2 छोटी चम्मच
  •     पिस्ते - 6-7

 

विधि -

तिल को साफ कर लीजिये. पिस्ते पतले पतले काट लीजिये.

भारी तले की कढ़ाई आग पर रख कर गरम कीजिये, तिल डालिये और मीडियम आग पर तिल हल्के ब्राउन होने तक (तिल करारे होने तक) भून लीजिये. तिल को ज्यादा मत भूनिये वे स्वाद में कड़्वे हो जाते हैं. भुने तिल निकाल कर अलग प्लेट में रखिये. तिल ठंडे होने पर एकदम मोटे मोटे पीस लीजिये.

किसी लकड़ी के बोर्ड पर या किचन टाप पर घी लगाकर चिकना कीजिये.
कढ़ाई में 1 छोटी चम्म्च घी डालिये और गुड़ के टुकड़े डालकर पिघलाइये, गुड़ पिघलने के बाद कलछी से चलाते हुये 2 मिनिट तक और पका लीजिये. चाशनी में मोटे पिसे तिल डालिये और अच्छी तरह मिलाइये.

मिश्रण को कलछी से उठाकर चिकनी की गई जगह पर रखिये (मिश्रण गरम ही रहे, ठंडे मिश्रण जम जायेगा और मिश्रण को पतला बेलने मे कठिनाई होगी). घी से अपने हाथ चिकने कीजिये और मिश्रण को चौकोर आकार दीजिये, थप थपाकर चपटा कर लीजिये, कतरे हुये पिस्ते ऊपर से डाल दीजिये.

बेलन को घी लगाकर चिकना कीजिये, मिश्रण को हल्का दबाव देते हुये बढ़ाइये. आप तिल पट्टी को जितना पतला बेलना चाहें बेल लीजिये.  बेली हुई तिल पट्टी पर चाकू से अपने पसन्द के आकार के अनुसार काट कर निशान बना दीजिये. तिल पट्टी को ठंडा होने के लिये रख दीजिये.

ठंडा होने के बाद बोर्ड से तिल पट्टी चाकू की सहायत से निकाल लीजिये. स्वादिष्ट तिल पट्टी तैयार है, अब आप इसे खा सकते हैं. बची हुई तिल पट्टी को एअर टाइट कन्टेनर में भरकर रख लीजिये जब भी आपका मन करे बहुत दिन तक तिल पट्टी कन्टेनर से निकालिये और खाइये.

 

Loading...